देश का चर्चित नरसंहार कांड, 58 दलितों को मौत के घाट उतारने वाला आरोपी बरी



पटना : देश में चर्चित रहे नरसंहार बाथे में 58 लोगों की सामूहिक हत्या कर दी गई थी। निर्मम हत्या का मुख्य आरोपी भी अदालत से भी बरी हो गया है
घटना 1997 में अरवल के बाथे गांव में हुईं थी। इस घटना में 16 को फांसी और 10 को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी। इस नरसंहार में 46 लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया गया था।
58 लोगों की निर्मम हत्या का मुख्य आरोपी भी आज अदालत से भी बरी हो गया। कई अभियुक्त सबूत के आभाव में पहले ही बरी हो गया था। इस घटना पर भाकपा माले ने कई सवाल खड़े किए है।
आपको बताते चले कि लक्ष्मणपुर बाथे नरसंहार 1997 में हुआ जिसमें दलितों के पूरे गांव में मार काट और हिंसा का तांडव मचा था। इल्जाम रणबीर सेना पर लगा था लेकिन इस हत्याकांड के आरोपी अदालत से बरी हो गए थे।
लक्ष्मणपुर बाथे नरसंहार के साथ अलग अलग वक्त पर कुल मिलाकर बच्चों और महिलाओं समेत 144 लोगों को मार दिया गया था। मरने वालों में 27 महिलाएं और 16 बच्चे भी शामिल थे। उन 27 महिलाओं में से करीब 10 महिलाएं गर्भवती भी थीं।


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.