देश में होने वाले 10 सबसे खतरनाक नक्सली हमले: अब तक हो चुकें हैं हज़ारों जवान शहीद




सोमवार को छत्तीसगढ़ में नक्सली हमले में अब तक 26 CRPF जवान शहीद हो चुके हैं। जानिए पिछले कुछ सालों के 10 सबसे खतरनाक नक्सली हमलों के बारे में...
1.2017: इसी साल मार्च में छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले के भेज्जी इलाके में नक्सलियों द्वारा किए गए धमाके में गश्त पर निकले 11 CRPF जवान शहीद हो गए थे।
2.2013: छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले की दरभा घाटी में नक्सली हमले में सलवा जुडूम के प्रवर्तक कांग्रेस नेता महेंद्र कर्मा और छत्तीसगढ़ के कांग्रेस प्रमुख नंद कुमार पटेल सहित 27 लोगों की मौत।
3.2012: झारखंड के गढ़वा जिले में नक्सलियों ने लैंडमाइन ब्लास्ट किया जिसमें एक ऑफिसर सहित 13 पुलिसवालों की मौत हुई 2 पुलिसवाले घायल हुए थे।
4.2011: छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में माओवादियों की बिछाई बारूदी सुरंग में विस्फोट में एक SSP समेत नौ पुलिसकर्मी मारे गए।
5.2010: छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में अब तक के सबसे बर्बर नक्सली हमले में 2 पुलिसवाले और CRPF के 74 जवान शहीद हो गए थे। दंतेवाड़ा के जंगलों में हुई खूनी भिड़ंत में सुरक्षाबलों के काफिले पर नक्सलियों की तरफ से 3000 राउंड गोलियां चलाई गई थीं।
6.2010: पश्चिम बंगाल के पश्चिमी मिदनापुर जिले के सिल्दा कैंप पर माओवादियों के हमले में पैरामिलिटरी फोर्स के 24 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले के बाद माओवादियों का बयान आया था कि पी चिदंबरम के ग्रीन हंट के जवाब में यह हमारा पीस हंट है।
7.2010: इस साल नक्सलियों ने त्रिवेणी एक्सप्रेस और कोलकाता-मुंबई मेल को निशाना बनाया। कोलकाता-मुंबई ट्रेन के पटरी से उतरने से कम से कम 150 यात्री मारे गए थे।
8.2009: महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले के पुस्तोला गांव के पास नक्सलियों की बिछाई बारूदी सुरंग फटने से 15 CRPF जवान शहीद हो गए थे।
9.2008: ओडिशा के नयागढ़ में हुए नक्सली हमले में 14 पुलिसवालों और एक नागरिक की मौत हुई थी।
10.2007: छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के रानीबोदली में नक्सलियों ने पुलिस कैंप को निशाना बनाते हुए अंधाधुंध फायरिंग की और कैंप में आग लगा दी थी। इस हमले में पुलिस के 55 जवान शहीद हो गए थे।


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.