IPL में पठान का वो रिकॉर्ड जिसे क्रिस गेल जैसा बल्लेबाज़ भी नही तोड पाया



टी-20 और आईपीएल में तूफान का नाम है क्रिस गेल. वेस्ट इंडीज़ के तूफानी बल्लेबाज क्रिस गेल ने हाल ही में गुजरात लायन्स के खिलाफ धुआंधार पारी खेलकर अपनी टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को जीत दिलाने में अहम भूमिका अदा की. आईपीएल 10 में क्रिस गेल ने अभी तक कोई शतक नहीं ठोका है, लेकिन टूर्नामेंट के इतिहास में सबसे ज़्यादा 5 शतक गेल के ही नाम दर्ज हैं. लेकिन एक ऐसा रिकॉर्ड है जिसमें को भारतीय क्रिकेटर यूसुफ पठान से पीछे हैं ।
धुआंधार बैटिंग से जुड़े इस रिकॉर्ड में यूसुफ पठान दुनियाभर के खिलाड़ियों में अव्वल हैं, जबकि क्रिस गेल तीसरे स्थान पर. आईपीएल में खेली गई शतकीय पारियों में बेहतरीन स्ट्राइक रेट की, जिसमें यूसुफ पठान पिछले सात साल से शीर्ष पर हैं, और कोई भी बल्लेबाज़ उन्हें उनकी जगह से डिगा नहीं पाया है.
शतकीय पारियों में सबसे ज़्यादा स्ट्राइक रेट की बात करें तो 13 मार्च, 2010 को राजस्थान रॉयल्स की ओर से मुंबई इंडियन्स के खिलाफ खेली गई तूफानी पारी में यूसुफ ने सिर्फ 37 गेंदों में नौ चौकों और आठ छक्कों की मदद से शतक लगाया था और इस पारी में उनका स्ट्राइक रेट 270.27 का रहा था.
आईपीएल के दौरान सबसे ज़्यादा स्ट्राइक रेट वाले बल्लेबाज़ों की सूची में दूसरे स्थान पर दक्षिण अफ्रीका के क्रिकेटर डेविड मिलर हैं, जिन्होंने 6 मई, 2013 को किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ 38 गेंदों में नाबाद 101 रन बनाए थे, और उनका स्ट्राइक रेट 265.78 रहा.
अब लिस्ट में तीसरे पायदान पर क्रिस गेल हैं, जिन्होंने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की ओर से पुणे वॉरियर्स के खिलाफ 23 अप्रैल, 2013 को 66 गेंदों में 13 चौकों और रिकॉर्ड 17 छक्कों की मदद से नाबाद 175 रन ठोक डाले थे, और उनका स्ट्राइक रेट 265.15 रहा था।
इस लिस्ट में चौथे स्थान पर दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स हैं, और पांचवें और छठे स्थान पर श्रीलंका के तूफानी बल्लेबाज़ सनत जयसूर्या तथा ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज़ एडम गिलक्रिस्ट हैं. सातवां और आठवां स्थान भारतीयों मुरली विजय और विराट कोहली ने कब्ज़ा रखा हैं, जबकि नौवें पायदान पर एक बार फिर एबी डिविलियर्स दर्ज हैं. टॉप 10 की इस लिस्ट में एंड्रयू साइमन्ड्स आखिरी स्थान पर हैं.

1 comment:

  1. Bahut shandar bale baaz hone ke bawajood bhi indian ciecket mei khilaya nahi jaa raha hai aise qabil logun ko moqa dena chahiye taki aur better karne ka auwsar mil sake

    ReplyDelete

Powered by Blogger.