सुप्रीम कोर्ट के 7 जजों को हुई 5 साल की सज़ा-जस्टिस कर्णन ने सुनाया फैसला




नई दिल्ली। खुद को बाबा साहब अंबेडकर का दत्तक पुत्र बताने वाले कोलकाता हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस सीएस कर्णन ने ऐतिहासिक फैसला दिया है। कर्णन ने अपने फैसले में सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायधीश सहित 7 जजों को एससी/एसटी एक्ट का दोषी पाए जाने के बाद 5 साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई है।

उन्होंने पहली बार न्यायपालिका में नियुक्ति में करप्शन का मामला उठाया था। इसकी शिकायत उन्होंने पीएम मोदी को पत्र लिखकर की थी। इस शिकायत को सुप्रीम कोर्ट के न्यायधीशों ने अपमान मानकर अवमानना का केस दर्ज कर लिया।
 इतना ही नहीं उन्होंने जस्टिस कर्णन का अपमान करते हुए उनकी मानसिक स्थिति की जांच का आदेश जारी कर दिया। जस्टिस कर्णन ने जबावी कार्रवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट के सात जजों के खिलाफ एससी अत्याचार निरोधक अधिनियम के तहत कार्रवाई शुरू कर दी। आज (सोमवार) इसी मामले की सुनवाई करते हुए कर्णन ने सुप्रीम कोर्ट के न्यायधीशों को सजा सुनाई है। 
कर्णन कई बार कह चुके हैं कि उन्हें दलित होने की वजह से परेशान किया जा रहा है। इस मामले पर सुनवाई करते हुए उन्होंने यह सजा सुनाई है। पढ़िए उनका पूरा फैसला......


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.