हम घायल यात्रियों को बचाने के लिए ख़ून का आख़री बुंद तक देने को तय्यार हैं: कश्मीरी मुसलमान




कल जम्मू और कश्मीर के अनंतनाग में अमरनाथ यात्रा पर हुए आंतकी हमले में 7 लोगों की मौत हो गई वहीँ दर्जनों लोग घायल हुए। सोशल मीडिया पर कश्मीर के लोगों को लेकर अलग-अलग तरह के विचार रखे जा रहे है।
वही आज केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह भी ट्विटर पर ट्रोल हो गए। राजनाथ ने कहा था कि, सभी कश्मीरी एक जैसे नहीं है। राजनाथ के इस ट्वीट का कुछ लोगों ने विरोध किया।
लेकिन जम्मू-कश्मीर से आई कुछ तस्वीरों ने राजनाथ के ट्वीट पर मोहर लगा दी। कश्मीर के युवाओं ने आगे आकर स्पष्ट रूप से इस हमले की कड़ी निंदा की। बड़ी संख्या में कश्मीरी युवकों ने अपनी मर्जी से घायल यात्रियों की सहायता की।
एक कश्मीरी युवा ने कहा कि, वे घायल यात्रियों की जान बचाने के लिए अपने ख़ून की एक-एक बूंद को दान करने के लिए तैयार हैं। कई कश्मीरी युवाओं को यात्रियों के लिए भोजन, पानी और अन्य चीजों का प्रबंध करते हुए भी देखा गया।
कुछ स्थानीय अखबारों ने रिपोर्ट किया कि, रक्तदान की अपील पर लगभग 1500 कश्मीरी युवक आगे आये। कश्मीरी लोग भी हमले के विरोध में सडकों पर उतर प्रदर्शन करते नज़र आये।

No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.