गर्भवती रोहिंग्या हिन्दू महिला की ज़ुबान से- मुस्लिम पडोसियों ने बचाई मेरी जान




ढाका | म्यांमार में रोहिंग्या मुस्लिमो के खिलाफ हो रहे नरसंहार के बीच खबर आई है की सुरक्षाबल रखाइन में रह रहे रोहिंग्या हिन्दुओ को मौत के घाट उतार रहे है. यही वजह है की सैकड़ो रोहिंग्या हिन्दू बांग्लादेश में शरण लेने को मजबूर हुए है. इन्ही पीडितो ने बताया की म्यांमार में सुरक्षाबल रोहिंग्या हिन्दुओ को भी गोली मार रहे है. उनके घर जलाए और लुटे जा रहे है. इसी बीच एक पीडिता की कहानी बांग्लादेश के एक अख़बार में छापी गयी है.

बांग्लादेश के अख़बार ढाका ट्रिब्यून ने एक ऐसी ही पीड़ित हिन्दू महिला अनिका डार की कहानी छापी है. अखबार में बताया गया की रखाइन क्षेत्र के मॉन्गडाव के एक गांव में रहने वाली अनिका डार के पति पास में ही एक दुकान पर नाई का काम करते है. जब सुबह वो काम पर जाने के लिए तैयार हुए तो काली वर्दी पहने कुछ हथियाबंद लोग उनके घर में घुस गए. उन्होंने पहले उनके घर को लूटा और बाद में उन्हें एक जगह पर घसीटकर ले गए.
अनिका ने आगे बताया की यहाँ पहले से ही सैकड़ो लोग मौजूद थे. वहां पर एक बड़ा सा गड्ढा भी खुदा हुआ था. इसी बीच सुरक्षाबलो ने अन्धाधुन्ध गोली चलानी शुरू कर दी. जिसकी वजह से कई लोग मौके पर ही मर गए. सुरक्षाबल मरे हुए लोगो को गड्ढे में डाल रहे थे. लेकिन मैं किसी कंफ्यूजन की वजह से बच गयी. उस समय मुस्लिम पड़ोसियों ने मेरी मदद की. उन्ही के साथ भागकर मैंने बांग्लादेश में शरण ली.

अनिका ने बताया की वो गर्भवती है. अनिका के अलावा भी कई और हिन्दू महिलाए शरण लेने के लिए बांग्लादेश पहुंची है. इनके पतियों को भी सुरक्षाबलो ने गोली मार दी. फ़िलहाल मारे गए रोहिंग्या हिन्दुओ के आंकड़े सामने नही आये है. हालाँकि म्यांमार की स्टेट काउंसलर आंग सु की ने रोहिंग्या मुस्लिमो पर आतंकी हमलो में शामिल होने का आरोप लगाया है. इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा की वो रखाइन इलाके में शांति स्थापित करने का प्रयास कर रही है.

No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.