समाज सेवी हाजी आरिफ ने अपने निजी पैसे से 25 गरीब लडकियों की करवाई शादी



ग़ाज़ियाबाद  दिल्ली से सटे गाजियाबाद के डासना गांव में समाज सेवी हाजी मोहम्मद आरिफ ने सामूहिक रूप से 25 जोड़ो के निकाह कराये हैं। बीते रविवार 15 अक्टूबर को ये निकाह कराये गये हैं। ये निकाह पश्चिमी उत्तर प्रदेश के इस्लामिक शिक्षा के केन्द्र जामिया गुलजार ए हुसैनिया के मोहतमिम मौलाना अब्दुल्लाह मुगीसी के द्वारा  पढ़ाये गये।
समाज सेवी हाजी मोहम्मद आरिफ ने इसी साल से गरीब लडकियों की शादी कराने का बीड़ा उठाया है, नेशनल स्पीक के ख़बरों के मुताबिक़ इससे पहले उन्होंने 27 अप्रैल 2017 को 21 शादियां कराईं थीं। उन्होंने बताया कि उन्होंने न सिर्फ मुसलमानों की लड़कियों बल्कि हिन्दू समाज के गरीब लडकियों की भी शादी कराई हैं।
समाजसेवी हाजी आरिफ ने बताया कि इन शादियों में जरूरी सामान के साथ साथ तमाम रस्मे अदा की जाती हैं। इस मौके पर मौलाना अब्दुल्लाह मुगीसी ने कहा कि दहेज लेना और देना दोनों ही समाज के लिये अभिशाप है। उन्होंने कहा कि अगर समाज में बगैर दहेज की शादियां का प्रचलन होता है तो फिर गरीबों को अपने बच्चों की शादी करने में किसी समस्या का सामना करना नहीं पड़ेगा।
दो दिन पहले भी कराई थी शादी
अपने निजी पैसे से गरीबों की शादियां कराने वाले हाजी आरिफ ने बताया कि दो दिन पहले उन्होंने चार हिन्दू समुदाय के गरीब लड़कियों की शादी कराई थी, और उसके बाद रविवार को इस सामूहि निकाह का कार्यक्रम किया गया जिसमें 22 जोड़ों की शादियां कराई गईं।
इस सामूहिक निकाह के कार्यक्रम में धौलाना विधानसभा से बसाप के विधायक असलम चौधरी, बासिद प्रधान, मौलाना अब्दुल मालिक मुगीसी, मौलाना मुहम्मद नदीम क़ासमी, मौलाना इसरार, उस्ताद, जामिया गुलज़ारे-ए-हुसैनिया अजराड़ा, मौलाना रियाज़ुद्दीन, अशरफ हुसैनी, व मौलाना सालिम इत्यादि शरीक रहे.


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.