आग की लपटों में घिरे भारतीय ड्राईवर हरकीरत सिंह को अरबी महिला ने जान पर खेलकर बचाई जान




दुबई  संयुक्त अरब अमीरात की एक मुस्लिम महिला भारतीय ड्राईवर क लिये फरिश्ता बनकर आई जिसकी समझदारी की वजह से भारतीय ड्राइवर की जान बच गई। यूएई की यह महिला अस्पताल में भर्ती अपने किसी दोस्त का हाल चाल लेने के लिये अस्पताल गई थी। वहां से लौटते वक्त उसने एक शख्स को देखा जो आग की लपटों में घिरा हुआ था।
इस दर्दनाक नजारे को देखकर उस महिला ने अपना अबाया (कपड़ों के ऊपर पहने जाने वाला बुर्कानुमा गाउन) निकाला और ड्राइवर आग की लपटों से घिरे इस शख्स की आग बुझानी शुरु कर दी, जिसमें वह कामियाब भी रही और उस शख्स की जान भी बच गई।
क्या था मामला
अपनी सूझ बूझ और समझदारी से एक शख्स की जान बचाने वाली महिला का नाम जवाहेर सैफ अल कुमैती है। 22 वर्षीय कुमैती रास अल खैमा शहर में रहती है। उन्होंने जिस ड्राईवर की जान बचाई उसका नाम हरकीरत सिंह है। जवाहेर सैफ ने बताया- वो शख्स  आग की लपटों से घिरकर जमीन पर गिर गया था। मैंने अपनी दोस्त का अबाया लिया। उससे कार के अंदर ही रहने को कहा। और उस शख्स के पास पहुंची। उसके कपड़े जल चुके थे। मैंने उसके ऊपर अबाया डालकर उसकी आग बुझाई।
इस बहादुर महिला कुमैती के मुताबिक- मैंने उससे कहा कि आप चिंता मत करो जल्द ही यहां बचाव टीम पहुंच जाएगी और आप बच जाएंगे। यह बहादुर महिला कुमैती शारजाह की एक कंपनी में काम करती हैं। उन्होंने बताया कि इस घटना के कुछ देर बाद ही पुलिस और मेडिकल टीम मौके पर पहुंच गई। उन्होंने कहा  मैं ऊपर वाले का शुक्रिया अदा करती हूं जिसकी बदौलत मुझे इतनी ताकत दी कि मैं बिल्कुल सही वक्त पर उस जगह पहुंची और एक शख्स की जान बचाने में कामयाब रही।
ट्रकों की टक्कर बनी हादसे की वजह
कुमैती ने बताया कि जब वह अस्पताल से लौट रही थी लौटते वक्त उन्होंने देखा की सड़क पर दो ट्रकों की टक्कर हुई है। जिसमें उन्होंने एक शख्स की आवाजें उनाई दीं जो मदद के लिए चिल्ला रहा था। कुमैती के बताया कि उनकी एक दोस्त भी उनके साथ थी जो अबाया पहने थी। अबाया सलवार कमीज के ऊपर पहने जाने वाला गाउन की तरह होता है। यह बुर्के से कुछ अलग तरह से डिजाइन किया जाता है।
मिलेगा सम्मान
अपनी बहादुरी और सूझ बूझ से एक इंसान की जिंदगी बचाने वाली इस बहादुर महिला को यूएई की तरफ से ईनाम की घोषणा की गई है। UAE एडमिनिस्ट्रेशन ने कहा है कि वो कुमैती की इस बहादुरी के लिए उसे सम्मानित करेगी। उधर अबु धाबी स्थित इंडियन एम्बेसी ने भी जवाहेरी को सम्मानित करने का एलान किया है। बता दें कि जिन ट्रकों की टक्कर हुई थी, उन दोनों के ड्राइवर 40 से 50 फीसदी तक झुलस गए हैं। दोनों को इलाज के लिये अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.