रोहिंग्या मुसलमानों के खिलाफ हिंसा में शामिल प्रसिद्ध बौद्ध धर्मगुरु को बांग्लादेश पुलिस ने किया गिरफ्तार




बांग्लादेश ने आतंकवाद के आरोपों में एक प्रसिद्ध बौध्द धर्मगुरु को गिरफ्तार किया है. पुलिस का कहना है कि म्यांमार के रख़ीन राज्य में रोहिंग्या मुसलमानों के खिलाफ हिंसा में इस धर्मगुरु का हाथ है. पुलिस का कहना है कि 67 वर्षीय यू शित मोंग को उस वकत हिरासत में लिया गया जब वह पिछले सप्ताह ढाका के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से म्यांमार के लिए उड़ान भरने की कोशिश कर रहा था.
पुलिस ने बीते रोज खुलासा किया कि राकिंग डेवलपमेंट फाउंडेशन के प्रमुख मोंग को उनके लैपटॉप से कथित तौर पर संदिग्ध तस्वीरों के मिलने के बाद हिरासत में लिया गया. एअरपोर्ट के पुलिस प्रमुख नूर-ए-आज़म मिया ने एएफपी को बताया कि आरएपी ने पिछले हफ्ते हवाई अड्डे से आतंकवाद के आरोपों के तहत उसे गिरफ्तार कर हमें सौंप दिया.
हालांकि मोंग की बहन ने उसे निर्दोष बताया और कहा कि उसके भाई, जिनकी पत्नी म्यांमार में रहती है निर्दोष है. उनके खिलाफ झूठे आरोप लगाये गए है. सत्तारूढ़ अवामी लीग के एक पूर्व सांसद राखींग ने कहा कि वह मुस्लिम और बौद्ध दोनों के लिए काम करते है.

No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.