इस्राईली समाचार पत्र का ख़ुलासा- रोहिंग्या मुसलमानों के जनसंहार में इस्राईली हाथ होने की बात क़बुल की




इस्राईली समाचार पत्र हारेट्ज़ की रिपोर्ट के मुताबिक़, म्यांमार में पीड़ित रोहिंग्या मुसलमानों के सरकारी सतह पर होने वाले नस्लीय सफ़ाए में इस्राईल की भी भूमिका है।


हारेट्ज़ ने नस्लीय सफ़ाए के मामलों के इस्राईली विशेषज्ञ प्रोफ़ेसर याइरन ओरून के हवाले से लिखा है कि रोहिंग्या मुसलमानों के जनसंहार में तेल-अवीव की भूमिका है।
ओरून ने स्वीकार किया है कि पिछले कई दशकों से इस्राईल को म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों के नस्लीय सफ़ाए की जानकारी थी और वह इस देश को हथियार और सैन्य उपकरण उपलब्ध कराता रहा।
प्रोफ़ेसर ओरून का कहना है कि संयुक्त राष्ट्र संघ के मापदंडो के आधार पर म्यांमार सरकार और सेना रोहिंग्या मुसमलानों का नस्लीय सफ़ाया कर रही है।
उन्होंने कहा कि ज़ायोनी युद्ध मंत्री एविगडोर लिबरमैन ख़ुद को रोहिंग्या मुसलमानों के नस्लीय सफ़ाए में निर्दोष साबित करने की कोशिश कर रहे हैं।


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.