अमेरिका में व्हाइट हाउस के सामने रोहिंग्या मुसलमानों के समर्थन में ज़बरदस्त विरोध प्रदर्शन




सोमवार को अमेरिकी जनता ने व्हाइट हाउस के सामने रोहिंग्या मुसलमानों के समर्थन में ज़बरदस्त प्रदर्शन किया।
पारस के अनुसार सोमवार को रोहिंग्या मुसलमानों के समर्थन में व्हाइट हाउस के सामने किए गए इस विशाल प्रदर्शन में इस देश के मुसलमानों और मानवाधिकार संगठनों, इस्लाम अमेरिका संपर्क परिषद, उत्तरी अमेरिका के इस्लामी समुदाय, अमेरिकी मुसलमानों के संगठनों तथा अन्य विभिन्न संस्थाओं के सैकड़ों सदस्यों ने भाग लिया।
व्हाइट हाउस के सामने रोहिंग्या मुसलमानों के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों ने म्यांमार की सरकार से मांग की है कि वह रोहिंग्या मुसलमानों के ख़िलाफ़ जारी प्रयोजित हिंसा के सिलसिलों को बंद करे। प्रदर्शनकारियों ने अपने हाथों में बैनर उठा रखे थे, जबकि प्रदर्शनकारियों ने नारे लगाते हुए म्यांमार में होने वाले जनसंहार पर अमेरिकी सरकार की चुप्पी पर चिंता व्यक्त करते हुए कड़ी आलोचना की है।
इस संबंध में समाचार पत्र वाशिंगटन पोस्ट ने भी लिखा है कि ट्रम्प सरकार ने म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों के ख़िलाफ़ जारी हिंसा के मुद्दे पर कोई क़दम नहीं उठाया है जबकि संयुक्त राष्ट्र ने म्यांमार में चरमपंथी बौद्धों द्वारा इस देश की सेना के साथ मिलकर रोहिंग्या मुसलमानों को निशाना बनाए जाने की पुष्ट रिपोर्ट भी जारी की है और कहा है कि म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों का नरसंहार किया गया है जिनमें महिलाएं और छोटे बच्चे भी शामिल हैं।
संयुक्त राष्ट्र ने इस हिंसा को मानवता के ख़िलाफ़ एक बड़ा अपराध घोषित किया है। उल्लेखनीय है कि म्यांमार के राख़ीन प्रांत में रोहिंग्या मुसलमानों पर इस देश की सेना और चरमपंथी बौद्धों के बर्बरतापूर्ण हमलों में छह हज़ार से अधिक लोग मारे गए हैं जबकि आठ हज़ार घायल हैं लाखों पीड़ित रोहिंग्या मुसलमान अपना देश छोड़कर पड़ोसी देशों विशेषकर बांगलादेश में शरण लेने पर मजबूर हो गए हैं।

No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.