सत्ता को लेकर आले सऊद में घमासान- 24 घंटे के अंदर दो राजकुमारों की मौत, हादसा या साज़िश ?




सऊदी अरब के शाही परिवार आले सऊद में सत्ता को लेकर चल रहा घमासान अब अपनी चरम सीमा पर पहुंच गया है। इसी क्रम के चलते पिछले 24 घंटों के दौरान दो सऊदी राजकुमारों की मौत हो गई।
प्राप्त समाचारों के मुताबिक़ सऊदी अरब के युवराज मोहम्मद बिन सलमान और दूसरे राजकुमारों के बीच सत्ता को लेकर चल रहा विवाद अब ख़ूनी संघर्ष में बदल चुका है। मंगलवार को इसी संघर्ष की भेंट सऊदी अरब के पूर्व नरेश शाह फ़हद के बेटे प्रिंस अब्दुल अज़ीज़ चढ़ गए जिनकी बड़ी बेरहमी से हत्या कर दी गई।
समाचार एजेंसी तसनीम के अनुसार युवराज मोहम्मद बिन सलमान की ग़लत नीतियों का निरंतर विरोध कर रहे राजकुमार अब्दुल अज़ीज़ बिन फ़हद को उस समय गोली मार कर मौत के घाट उतार दिया गया जब उन्होंने अपनी गिरफ़्तारी का विरोध किया। सुरक्षाकर्मियों ने राजकुमार अब्दुल अज़ीज़ बिन फ़हद को गिरफ़्तारी करना चाहते थे लेकिन उन्होंने इसका विरोध किया जिसके कारण सुरक्षाकर्मियों ने उसी समय उनपर गोलियों की बौछार कर दी।
उल्लेखनीय है कि 44 वर्षीय अब्दुल अज़ीज़, सऊदी अरब के पूर्व नरेश शाह फ़हद के सबसे छोटे बेटे थे। उनके बारे में दो तीन दिन से यह ख़बरें आ रही थीं कि उनको आले सऊद के सुरक्षाकर्मियों ने गिरफ़्तार कर लिया है। हालांकि सऊदी अरब सरकार ने अबतक उनकी मृत्यु के कारण के बारे में कुछ नहीं कहा है।
याद रहे कि सऊदी अरब में भ्रष्टाचार और मनी लांड्रिंग के आरोप में 11 राजकुमारों, 4 मौजूदा  मंत्रियों और दर्जनों पूर्व मंत्रियों को गिरफ़्तार कर लिया गया था। गिरफ़्तार किए गए लोगों में सऊदी अरब के सबसे अमीर राजकुमार वालीद बिन तलाल भी शामिल हैं, जबकि सोमवार को यमन की सीमा के पास सऊदी अरब के शहज़ादे मुक़रिन और कुछ वरिष्ठ अधिकारीके हेलीकाप्टर पर सऊदी युद्धक विमानों ने बमबारी की जिसके कारण हेलीकाप्टर पर सवार सारे लोग मारे गए।

No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.