एंकर रोहित सरदाना के समर्थन में उतरे जावेद अख्तर- जानिये क्या कहा जावेद अख़्तर ने




नई दिल्ली – आज तक के एंकर रोहित सरदाना को कुछ लोगों द्वारा कथित तौर पर फोन करके गालियां दी जा रही हैं। गाली देने वाले इस बात से नाराज हैं क्योंकि रोहित द्वारा पैगंबर ए इस्लाम की बीवी और बेटी पर आपत्तीजनक टिप्पणी की गई थी। रोहित की इस टिप्पणी के खिलाफ उन पर मुकदमा भी दर्ज हो चुका है।
रोहित सरदाना का आरोप है कि उन्हें फोन करके लगातार गालियां दी जा रही है, इसी को लेकर उन्होंने योगी सरकार से सुरक्षा की गुहार भी लगाई थी। मशहूर गीतकार जावेद अख्तर ने उनका समर्थन भी किया है जावेद ने कहा है कि जो लोग रोहित को गालियां दे दे रहे हैं और धमकी दे रहे हैं वे लोग अभिव्यक्ती की आजादी के दुश्मन हैं। उन्होंने कहा कि एसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रावाई होनी चाहिये और उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिये।
जावेद अख्तर ने एक ट्वीट करते हुए कहा कि जो लोग रोहित को गालियां दे रहे हैं वे अभिव्यक्ती आजादी औरलोकतंत्र के दुश्मन हैं। एक सहिष्णू समाज और सेकुलर देश में यह सब बर्दाश्त नही किया जा सकता वे इसकी निंदा करते हैं और ऐसे लोगों को पहचान करके उन्हें गिरफ्तार करने की मांग करते हैं।

अमर्यादित ट्वीट को लेकर रोहित सरदाना को मिल रही गालियों की सोशल मीडिया पर भी निंद हो रही है। सोशल मीडिया एक्टिविस्ट इस्लाहुद्दीन अंसारी ने लिखा है कि ‘रोहित सरदाना ने अगर कुछ घटिया काम किया है तो कानून के दायरे में रहकर उसके ख़िलाफ़ कानूनी कार्यवाही एक बेहतर विकल्प है आपके पास। उसे और उसके परिवार को गालियाँ और धमकियां देना एक घटिया मानसिकता के अलावा कुछ भी नहीं है। अगर गलती उसने की है तो उसे उसकी सज़ा जरूर मिलेगी। बीच में उसके परिवार को घसीटने की क्या ज़रूरत है? इसमें उसके परिवार के लोगों का भला क्या दोष?’
ट्वीटर पर स्वतंत्र टिप्पणीकार ने रोहित सरदाना को मिलने वाली धमकियों और गालियों की निंदा करते हुए लिखा है कि ‘सरदाना रोहित को फोन कर के दी जाने वाली गालियों की मैं घोर निंदा करता हूँ लेकिन इस मामले मे सभी पत्रकारों का साथ क्यों मांगा जा रहा है ?  क्या रविश कुमार, अभिसार शर्मा, गौरी लंकेश इत्यादि पर आप उनके साथ थे ? तब इन पत्रकारों का साथ देने के बजाए जी हुजुरी कर रहे थे, अब क्या हुआ ?’
गौरतलब है कि पद्मावती फिल्म को लेकर हो रहे विवाद के दौरान ही दक्षिण भारत की एक फिल्म आई थी एस दुर्गा जिस पर टिप्पणी करते हुए रोहित सरदाना ने कहा था कि अभिव्यक्ती की सारी आजादी सिर्फ सेक्सी दुर्गा आदी के लिये ही क्यों कभी सेक्सी फातिमा और सेक्सी आयशा पर भी फिल्म बनाईये।


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.