मुसलमानों से अपने रिश्तों पर पहली बार खुल कर बोले रजनीकांत, किया बड़ा खुलासा




फिल्म 2.0 के अॉडियो रिलीज के मौके पर दक्षिण भारत के मेगास्टार रजनीकांत अक्टूबर में दुबई गए थे और रविवार को इस कार्यक्रम का प्रसारण हुआ.
66 वर्षीय एक्टर ने यहां बताया कि वह पहली बार दुबई आए हैं. बुर्ज पार्क में आयोजित हुए इस कार्यक्रम में रजनीकांत ने बताया कि मैं पहले कई बार दुबई से होकर गुजरा हूं, लेकिन कभी एयरपोर्ट से बाहर नहीं आया.
यह पहली बार है, जब मैं दुबई आया हूं. उन्होंने भारतीयों को नौकरी का अवसर मुहैया कराने के लिए दुबई के शासक को धन्यवाद दिया. उन्होंने बताया कि उनका मुसलमानों के साथ एेसा रिश्ता है, जिसे वह समझा नहीं सकते.
उन्होंने बताया कि जब मैं 70 के दशक में बस कंडक्टर था, तो ट्रांसपोर्ट में काम करने वाले ज्यादातर लोग मुस्लिम थे. जब मैं चेन्नई आया तो एक दोस्त के घर किरायेदार के तौर पर रहा. उस बिल्डिंग का मालिक एक मुस्लिम दोस्त था.
उन्होंने बताया कि जब मैं मशहूर हुआ तो पियोस गार्डन में खुद का घर खरीदा, वह भी मुस्लिम समुदाय के एक शख्स का था. उन्होंने कहा कि यहां तक कि पहले राघवेंद्र मंडपम का मालिक भी मुस्लिम ही था.
रजनी ने कहा, ”मैंने कई फिल्मों में काम किया है, लेकिन आज भी अगर कोई फिल्म उन्हें झटका दे सकती है, वह है बाशा”. उनकी इस बात पर लोगों ने जमकर तालियां बजाईं.
1995 में रिलीज हुई इस फिल्म में गैंगस्टर बनने के बाद रजनीकांत अपने मारे गए दोस्त का नाम अपना लेते हैं. उन्होंने कहा, ”मेरे गुरु श्री राघवेंद्र स्वामी हैं. जिस जमीन पर मंत्रालयम बना है, वह नवाब ने दी थी.
उन्होंने कहा कि मेरा मुस्लिमों के साथ एक मजबूत जुड़ाव रहा है।


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.