सुब्रमण्यम स्वामी पर आज़म ख़ान का तंज, कहा- दामाद मुसलमान और मुसलमानो को गद्दार भी कहते हैं




रामपुर: यूपी के दूसरे चरण के प्रचार के अंतिम दिन रामपुर में एक चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए सपा के कद्दावर नेता आज़म खान ने जहां बनारस के विकास के मुद्दे पर पीएम मोदी को निशाने पर लिया। वहीं वह ताजमहल की सफाई पर योगी को आड़े हाथो लेते नज़र। आज़म खान इतने पर ही नहीं रुके, उन्होंने मुसलमानों को गद्दार कहने वाले बयान पर बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी पर जमकर सियासी तीर छोड़े।

यह मुल्क हमारा है चलो तुम्हें इससे बुरा लगता है, हमारा भी है। अकबर तो हमारा नहीं था मगर जोधाबाई तो तुम्हारी थी। क्यों कहते हैं, मैंने तो नहीं कहा था समाजवादी पार्टी ने भी नहीं कहा था। अब अकबर के गुनाहों की सजा हमे भी मिल रही है। स्वामी जी आपने तो बेटी दे दी फिर भी मुसलमानों को गद्दार कह दिया। मगर मैं एलानिया ये कहता हुं कि स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चे और बच्चियां नहीं देखते हैं, किसी की जात किसी का धर्म क्या है।
अगर वो मोहब्बत करके मोहब्बत के साथ जीना चाहते हैं तो स्वामी जी अपने जिस तरह अपनी बेटी को जीने का हक़ दिया, देश की सभी बेटियों को जीने का हक़ दो। स्वामी जी देश की फ़िक्र के साथ साथ अपने परिवार की भी फ़िक्र करो। आपको कृष्ण जी क्यों अच्छे नहीं लगते क्यों कि वे मुलायम सिंह यादव के वंशज हैं। क्योंकि कृष्ण जी ग्वाले थे और मुलायम सिंह जी भी ग्वाले हैं। क्योंकि आपको यादव अच्छे नहीं लगते हैं। सुब्रमण्यम स्वामी जी इसलिए आपको कृष्ण जी भी अच्छे नहीं लगते। वाह ये भी क्या बात हुई।
योगी जी आपके वंशज राज करें और मुलायम सिंह यादव के वंशजों को सुब्रमण्यम स्वामी जी तौहीन के अल्फ़ाज़ बोलें, इसलिए तो कहता हुं स्वामी जी घर की भी फ़िक्र रखो, दामाद मुसलमान रखोगे और मुसलमानों को गद्दार बताओगे। वाह स्वामी जी वाह। दामाद मुसलमान और मुसलमान गद्दार ये है सच्चे फासिस्ट।
आप अगर 15 दिन बनारस में नहीं रहे होते तो एक भी सीट भारतीय जनता पार्टी बनारस में नहीं जीतती। इसलिए कि वहां के सारे घाट आज भी कहते हैं, चुनौती देकर कि इस्तीफा दे देंगे विधानसभा से। एक भी घाट बता दें जहां पर मोदी जी एक भी पत्थर आपका लगा हो। वहां पर भी इस खादिम के नाम के ही पत्थर लगे हैं। बनारस की सारी गलियां हमारी बनवाई हुई हैं।
बनारस का सारा वॉटर सिस्टम मेरा बनवाया हुआ है। बनारस का सारा सीवर सिस्टम मेरा बनवाया हुआ है। बनारस में मेरी पहचान ज़्यादा है मोदी जी आपकी पहचान नहीं है। क्या बहादुरी है, गुजरात में झोंक रखी है पूरी ताक़त। 12 – 12 वज़ीरे आला मौजूद हैं। गली-गली सभा कर रहे हो। अरे आप बादशाह हो बादशाह।
एक फिल्म को तमाशा बना दिया सिर्फ वोट हासिल करने के लिए। फिल्मों पर वोट लिया जायेगा, मुसलमानों को मार कर वोट लिया जायेगा। तीन तलाक पर वोट लिया जायेगा। मोदी जी हमारी बहनों के बहुत हमदर्द बने हैं आप, एक बार गुजरात के दंगों में मारे गए लोगों की विधवाओं की लिस्ट तो जारी करदो, जो मालूम हो सके मुसलमानों के कितने हमदर्द हैं आप।
हिंदुस्तान का सबसे बड़ा सूबा है उत्तर प्रदेश, इसका मुखिया भी राजा होता है। मगर उस राजा को ये शोभा नहीं देता कि मरे हुए लोगों की मज़ारों पर जाकर उनकी कब्रों पर झाड़ू लगाकर धुल इकहट्टा करना शुरू कर दें, बिलकुल अच्छा नहीं लगा। मुगलों से लड़ाई और उनकी कब्रों की सफाई, वाह योगी जी वाह। शाहजहां ने कहा मुमताज़ से हम ज़िंदा थे तब भी बादशाह थे हम मरकर भी बादशाह हैं।
हमें भी अपने पांच साल पता नहीं कहा चले गए थे। योगी जी बचे ये चार साल ये भी पता नहीं कहां चले जायेगें। आप गोरखपुर नहीं जा सकेंगे, मैं तो रामपुर वापस आ भी गया। आप गोरखपुर से चुनाव भी नहीं लड़ पाए, क्योंकि आपने इतने मासूम बच्चे मार दिए कि उनकी मायें अपने हाथ लिए खड़ी हैं आपका गिरेबान पकड़ने के लिए। आप जब गोरखपुर जाओगे तो हज़ारों बच्चों के क़त्ल का इल्ज़ाम आपके कंधो पर होगा और आप जवाब नहीं दे सकोगे।


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.