राम हिंद के इमाम हैं, मुझे अयोध्या में भव्य मंदिर के निर्माण का इंतजार है- मोहसिन रज़ा




अयोध्या में सुलह के जरिए राम मंदिर निर्माण पर आध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर की पहल सुर्खियों में है. हालांकि केंद्र सरकार ‘आर्ट ऑफ लिविंग फाउंडेशन’ के संस्थापक  श्रीश्री रविशंकर की पहल को उनकी निजी कोशिश बता रही है. वहीं विपक्ष का कहना है कि श्रीश्री रविशंकर सरकार के एजेंडे को ही आगे बढ़ा रहे हैं. इसी सब गहमागहमी के बीच उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मोहसिन रजा 16 नवंबर को श्रीश्री रविशंकर से मुलाकात करने जा रहे हैं.
मोहसिन रजा ने इस मुलाकात से पहले ही कह दिया है कि उन्हें अयोध्या में भव्य मंदिर के निर्माण का इंतजार है. उन्होंने कहा, ‘मैं श्रमदान करने के लिए तैयार हूं, अगर आपसी सहमति से यह तय हो जाए कि कल मंदिर बनना शुरू हुआ तो मैं श्रम दान के लिए कल ही वहां पहुंच जाऊंगा.’
उत्तर प्रदेश के इकलौते मुस्लिम मंत्री मोहसिन रजा ने ‘आज तक/इंडिया टुडे’ से खास बातचीत में कहा, ‘अल्लामा इकबाल ने राम को इमाम उल हिंद का दर्जा दिया जो सबसे ऊंचा दर्जा होता है, वो हिंद के इमाम है तो इससे बेहतर कुछ नहीं हो सकता. इसलिए मुझे लगता है कि मुस्लिम समाज को भी जो आपसी सहमति से फैसला होगा, वो मंजूर होगा.’
मोहिसन रजा ने कहा, ‘अयोध्या रामचंद्र का जन्मस्थान है तो हम चाहते हैं कि वहां सुंदर मंदिर बने. आज देश विकास के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है, ऐसे में ये सबसे सही वक्त है कि इस मुद्दे को प्यार से सुलझाया जाए.’
मोहसिन रजा ने विपक्षी पार्टियों पर साम्प्रदायिक कार्ड खेलने का आरोप लगाया. मोहसिन रजा के मुताबिक निहित स्वार्थ वाले कुछ तत्व अनबन चाहते हैं. उन्होंने कहा कि वे ऐसे लोगों को समझा तो नहीं सकते. लेकिन इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि देश में बड़े पैमाने पर मुस्लिम समुदाय अयोध्या में संबंधित जगह पर राम मंदिर निर्माण के पक्ष में है.
मोहसिन रजा ने श्रीश्री रविशंकर की पहल को सराहनीय बताते हुए कहा कि ये अपने आप में एक मील का पत्थर साबित होगी. मोहसिन रजा के मुताबिक अगर कोई भी सोच रहा है कि ये ‘झगड़े’ का मुद्दा है तो उसे समझना होगा कि श्रीश्री रविशंकर इसे ‘झगड़ा’ नहीं मान रहे हैं.  मोहसिन रजा ने कहा कि सौहार्द की बात के लिए कोई कानूनी मान्यता की जरूरत नहीं है. कोर्ट ने पहले ही कहा है कि अगर आपसी सहमति से फैसला होता है तो अच्छा रहेगा.  
मोहसिन रजा ने ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड पर भी निशाना साधा. मोहसिन रजा ने कहा कि कई लोग अयोध्या के नाम पर अपनी दुकान चलाते रहे हैं, जैसे ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड और दो तीन एनजोओ है, सिर्फ उन्हीं को समस्या है. वरना आम मुस्लिम इस बात से सहमत है कि विकास हो रहा है.  
मोहसिन रजा ने कहा कि ये कैसे दुकान चलाएंगे ना बीएसपी रह गई है, ना समाजवादी पार्टी रह गई है. कोई भी इस मामले में सियासत करने के लिए नहीं रह गया. 2014 लोकसभा चुनाव में और 2017 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिला और कांग्रेस का करीब करीब सफाया हो गया. 


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.