इस्लाम में फेरबदल करने पर तुर्की के राष्ट्रपति ने लगाई सऊदी अरब के राजकुमार को फटकार- जानिये इर्दोगान ने और क्या कहा




सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान की तरफ से सऊदी अरब में शुरू किये गए मॉडरेट इस्लाम के अभियान को लेकर तुर्की राष्ट्रपति रजब तैय्यब एर्दोगान ने राजकुमार को जमकर फटकार लगाई है. उन्होंने बिन सलमान के मॉडरेट इस्लाम को पश्चिम की देन करार दिया. अर्दोग़ान ने OIC की बैठक में बोलते हुए कहा कि मॉडरेट इस्लाम पश्चिम ने गढ़ा है.
इस्लाम संतुलित और असंतुलित नहीं है…..
उन्होंने मुहम्मद बिन सलमान की तरफ इशारा करते हुए कहा कि जिसने इस शब्द का प्रयोग किया वह यह सोचता है कि उससे संबंधित है किन्तु उससे संबंधित नहीं है. उन्होंने कहा कि इस्लाम संतुलित और असंतुलित नहीं है. इस्लाम एक ही है और कोई भी इसकी विविधता का मामला नहीं उठा सकता.
मॉडरेट इस्लाम पश्चिम की देन है….
अर्दोग़ान ने आगे कहा कि तुम ‘मॉडरेट इस्लाम’ की बात करते हो जबकि महिलाओं को ड्राइविंग की अनुमति नहीं देते. इसका इस्लाम में कोई लेनादेना है? नहीं, कहते हैं कि इसके बाद अनुमति मिल जाएगी. अभी तक यह सब नहीं था. हमने इस्लाम के बारे में अभी तक एेसी चीज़ें नहीं सुनीं.
ऐसे शब्दों का उपयोग, इस्लाम को कमजोर करना है….
तुर्की राष्ट्रपति ने कहा इस तरह के शब्दों का उपयोग करने का उद्देश्य इस्लाम को कमजोर करना है. इस दौरान उन्होंने मुस्लिम महिलाओं के खिलाफ भेदभाव की भी आलोचना की. उन्होंने कहा कि धीरे-धीरे ईयू के राज्यों में सार्वजनिक-निजी जगह पर सिर ढंकने पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है.
उन्होंने पश्चिमी देशों पर भड़कते हुए कहा कि आज ज्यादातर यूरोपीय संघ के देशों ने मुस्लिम महिलाओं की सक्रिय रूप से काम करने और शिक्षा तक पहुंच को प्रतिबंधित किया है. जो लोग हमें मानव अधिकारों पर सबक सिखा रहे हैं दुर्भाग्य से उनके देशों में मूलभूत मानवाधिकारों को कुचल दिया जा रहा है.


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.