हाईकोर्ट ने दिया योगी सरकार को आदेश- तीन महीने के अंदर गिराया जाये इस मस्जिद को



इलाहाबाद  उत्तर प्रदेश के इलाहबाद हाईकोर्ट ने प्रदेश सरकार को आदेश दिया है कि अदालत में परिसर में अवैध रूप से बनी दो मंजिल मस्जिद को गिराया जाये। इलाहबाद हाईकोर्ट ने आदेश दिया है कि सुन्नी वक्फ बोर्ड इस मस्जिद को तीन महीने के अंदर गिराये और इसका मलबा भी खुद साफ करें।
अदालत ने प्रदेश सरकार और स्थानीय प्रशासन को आदेश दिया है कि यदी तीन महीने के अंदर मस्जिद प्रबंध समिती इस मस्जिद को नहीं गिराती है तो उस मस्जिद को कड़ी सुरक्षा के बीच प्रशासन द्वारा गिराया जाये, और इस अवैध निर्माण को हटाकर यह जमीन हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार के सुपुर्द की जाये
अदालत ने मस्जिद प्रबंधन कमैटी को तीन महीने की मोहलत देते हुए कहा कि वह प्रदेश सरकार या प्रशासन से मस्जिद के लिये जमीन की मांग कर सकती है। अदालत ने साफ कहा कि ऐसे मामले में अर्जी मिलने पर सहानूभूतीपूर्वक जगह देने पर विचार किया जाये। साथ ही अदालत ने तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा कि भविष्य में हाईकोर्ट परिसर में पूजा पाठ के लिय धार्मिक स्थल का निर्माण न किया जाये।
गौरतलब है कि इलाहबाद हाईकोर्ट में अधिवक्ता अभिषेक शुक्ल ने अदालत में याचिक दायर की थी जिस पर अदालत यह फैसला सुनाया है, इस मामले पर बीस सितंबर को अदालत का फैसला आना था लेकिन अदालत ने इस पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। अब न्यायमूर्ती जस्जिट डीबी भौसले और जस्टिस एमके गुप्ता की बैंच ने यह फैसला सुनाया है। अदालत ने हाईकोर्ट में परिसर में बनी मस्जिद को अवैध निर्माण माना है, और उसे गिराने का आदेश दिया है।


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.