मैं हिंदुओं के ख़िलाफ नही, बल्कि उन ताकतों के खिलाफ हूं जो देश को हिंदू राष्ट्र बनाना चाहते हैं- ओवैसी




ऑल इंडिया मजलिस-ए-एत्तेहादुल मुसलमीन के राष्ट्रीय अध्यक्ष और हैदराबाद से संसद बैरिस्टर असदउद्दीन ओवैसी की पहचान मीडिया के जरिये एक कट्टर हिन्दू विरोधी बना दी है. जिसकी वजह से उन्हें हिंदुओं के खिलाफ समझा जाने लगा है. इस बारे में सांसद असदउद्दीन ओवैसी ने साफ तोर से कहा है कि मैं हिंदुओं के खिलाफ नहीं हूं.
मैं हिन्दुओं के खिलाफ नहीं बल्कि उनके खिलाफ हूँ….
बल्कि उन ताकतों के खिलाफ हूं जो हिंदुस्तान को एक हिंदू राष्ट्र बना देना चाहते हैं. भारत की पहचान यहां की विविधता है और जो इसे खत्म करना चाहते हैं मैं उनके खिलाफ हूं. लखनऊ लिटरेरी फेस्टिवल के कार्यक्रम में लखनऊ आए ओवैसी ने कहा कि सरकार ने लिटरेरी फेस्टिवल पर रोक लगाकर अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अधिकार को कुचलने की कोशिश की है.
ताजमहल विवाद पर कहा….
लेकिन कुछ बोलने से रोकना संवैधानिक अधिकारों का हनन है. जो कि फासिज्म है. ओवैसी ने ताजमहल विवाद पर कहा कि इस तरह के विवाद असल मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए किए जा रहे हैं. अगर ताजमहल भारत की संस्कृति पर बदनुमा दाग है तो लालकिला भी है. लखनऊ की यह तहजीब इसे आप क्या कहेंग.
योगी सरकार पर साधना निशाना….
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गोरखपुर में बच्चों को इलाज न मिलने से बच्चों की मौत हो गई. कोई तालीम की बात न करे, महंगाई की बात न करे, इसलिए जरूरी मुद्दों से जनता का ध्यान हटाने के लिए इस तरह की बयानबाजी की जाती है.

No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.