वसीम रिजवी दलाल है, मस्जिद की जगह मंदिर बर्दाशत नहीं करेगा शिया मुसलमान: शिया बोर्ड




राम मंदिर मसले पर शिया पर्सनल ला बोर्ड और शिया वक्फ बोर्ड एक दुसरे के खिलाफ हो गये है, शिया पर्सनल लॉ बोर्ड ने एक ब्यान में कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बनने पर एतराज़ नहीं है इसपर हमको कोई आपत्ति नही है लेकिन बाबरी मस्जिद के स्थान पर मंदिर बनाया जाए, यह कोई भी मुसलमान सहन नहीं करेगा और शिया मुस्लिमो की भी यही राय है.
शिया बोर्ड के संस्थापक व महासचिव मौलाना सैय्यद अली हुसैन रिजवी कुम्मी ने एक बयान में कहा, ‘शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन रिजवी ढोंग कर रहे हैं.वसीम रिजवी पूरी शिया कौम को बदनाम कर रहे हैं. वह अपने को कानून से बचाने के लिए आरएसएस की भाषा बोल रहे हैं.’
उन्होंने कहा कि वह अयोध्या जाकर मंदिरों में फूल चढ़ा रहे हैं. तमाम साधु-संतों से मिलकर बातचीत का रास्ता निकालने की नाकाम कोशिश कर रहे हैं. वसीम रिजवी शिया कौम के ठेकेदार नहीं हैं.
कुम्मी ने कहा कि शिया वक्फ बोर्ड की करोड़ों की संपत्ति बर्बाद करने वाला जो जमानत पर छूटा है,वह अब शिया कौम का नेता बनना चाह रहा है. वक्फ बोर्ड का चेयरमैन का पद सरकारी होता है.सरकारी पद पर रहते हुए इस तरह की हरकते जारी रहने पर सरकार को संज्ञान लेना चाहिए.
आजम खान पर निशाना साधते हुए मौलाना रिजवी ने कहा कि वसीम तो आजम खान के बेहद करीबी थे,आज आजम किस बिल में घुस गये है,क्या वह भी मस्जिद को राम मंदिर बनाना चाह रहे है


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.