ओवैसी समर्थकों को अब ओवैसी के विचारधारा पर चलना सीखना होगा- बलॉग




मजलिस समर्थको को अब समझना होगा कि उन्हें जुम्मनो,बिकाऊ शायरो,एनजीओवादी के साथ सोशल मीडिया पर लड़ कर अपना वक्त खोटी करने से अच्छा है,इस बात पर गौर करे कि आगे ये प्रदर्शन और भी बेहतर कैसे होंगे अगर आप बतौर मजलिस समर्थक अपने गैर मजलिस समर्थको से कायदे से संवाद करना सीख ले, अपने आलोचको को गाली देना व सेक्यूलरिज्म को गाली देने के बजाए इनका अदब करना सीख ले।भुक्कल राम और शरद सोनकर सहित कुछ गैर मुस्लिम प्रत्याशियो का मजलिस से जीतना सेक्यूलरिज्म का ही अदब है।

असदउद्दीन ओवैसी सेक्यूलरिज्म के हिमायती है तो बतौर मजलिस समर्थक आप भी मजबूती से सेक्यूलरिज्म का झंडा उठाइए।भक्तों से गलवास करके भक्तों की तरह बर्ताव करना छोड़िये।कयादत की बात छोडकर अब हिस्सेदारी की बात करिए।एक लोकतांत्रिक मुल्क मे किसी का अपना कयादत नही होना चाहिए।हिस्सेदारी देने के नाम पर जिन दलो ने अबतक आपको ठगा है या किनारे रखा है।अब समय आ गया है वे आपके साथ आएगे।आज नही तो कल उन्हे आना ही होगा।बशर्ते आप उन्हे अपनी हक लेने के लिए मजबूर करना सीख ले।उनमे ये मजबूरी आपके प्यार से ही आएगी जबकि नफरत और तिरस्कार उन्हे आप से दूर ले जाएगी।
मजलिस समर्थकों को ये बात ज़हन में रखनी चाहिए की आज की भाजपा भी कभी सिर्फ़ लोक सभा में २ सीट के साथ पहुँची थी , उसने जिस तरह अपना संगठन मज़बूत किया आपको वैसा ही करना होगा , छोटे-छोटे काम बहुत हैं वोटर लिस्ट से बड़ी तादाद में नाम ग़ायब होते हैं आप चाहे तो वोटर लिस्ट से नाम जोड़ने के बहाने अवाम के क़रीब जाए , गली मोहल्ले के छोटे-छोटे काम कर लोगों का दिल जीतें , ज़मीनी स्तर पर मेहनत करें अगर आप ये सब करते हैं तो इसका बड़ा फ़ायदा ये होगा की कोई भी सियासी पार्टी मुसलमानो के वोट को मुफ़्त में हासिल करने का ख़याल अपने ज़हन से निकाल देगी ।
हालात बदलने के लिए दिन रात मेहनत करना पड़ता है , रातों रात आपको सबकुछ नही मिलेगा , दुनिया का ये दस्तूर कि पहले आपको हिक़ारत से देखा जाएगा आप हिक़ारत से देखने वाले को नज़र अन्दाज़ कर दे ,मुस्कुरा कर जवाब दें दे आपका मुस्तकबिल रौशन हो ये दुआ है हमारी , इस क़ौम का भला कर जाएँ ये उम्मीद है हमारी।
( उपर्युक्त लेख सुहैल अहमद और अब्दुर रशीद इब्राहिमी का संयुक्त विश्लेषण है )


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.