सामान्य ज्ञान पर आधारित फ्रांसीसी पत्रिका ने इस्राईल को बताया नक़ली देश- मचा हंगामा




नई दिल्ली –  फ्रांसीसी पत्रिका यॉपी ने अपने जनवरी के संस्करण में इजरायल को नक़ली देश करार दिया है। फ्रांसीसी पत्रिका के इस संस्करण पर विवाद हो गया है। जानकारी के मुताबिक फ्रांसीसी पत्रिका द्वारा इजरायल को नकली देश बताने को लेकर हुए विवाद के बाद अब यह पत्रिका अपने संस्करण को वापस लेने जा रही है।
यह पत्रिका पांच से आठ वर्ष तक के बच्चों के लिए प्रकाशित होती है, जिसमें सामान्य ज्ञान संबंधित जानकारियां प्रकाशित की जाती है, उसी सामान्य ज्ञान पर आधारित एक कार्ड गेम इस पत्रिका के जनवरी संस्करण में प्रकाशित हुआ था, जिसमें एक कार्ड पर इजरायल को नक़ली देश के तौर पर दर्शाया गया था।
जानकारी के लिये बता दें कि 1947 से पहले इजरायल नाम का कोई देश इस जमीन पर नहीं था, 1948 में फ़िलिस्तीनियों की ज़मीन हड़पकर यहूदी चरमपंथियों के संगठनों ने एक अवैध एवं नक़ली देश इजराय की नींव रखी थी, जिसे आज तक ज्यादातर इस्लामी देशों समेत गैर इस्लामी देशों ने भी मान्यता नहीं दी है।
फ्रांसीसी पत्रिका के एक कार्ड पर लिखा है, “197: हम दुनिया के इन 197 राष्ट्रों को देश कहते हैं, जैसे कि फ़्रांस, जर्मनी और अल्जीरिया, पत्रिका में लिखा है कि दुनिया में इनके अलावा भी कुछ देश हैं, लेकिन दुनिया के तमाम देश उन्हें सचमुच में देश नहीं मानते हैं, जैसे कि इजरायल और नार्थ कोरिया।”
पत्रिका के इस संस्करण की फ़्रांस में इजरायल के राजदूत ने बच्चों को यह सच्चाई बताने की कड़ी निंदा की है और कहा है कि इससे इजरायल के ख़िलाफ़ नफ़रत इजाफा होगा। इजरायल और इजरायल शासन के अधिकारी इस फ़्रांसीसी पत्रिका का विरोध कर रहे हैं।
हालांकि फ़्रांसीसी पत्रिका ने उत्तर कोरिया को भी इजरायल की श्रेणी में रखा है, जबकि नार्थ कोरिया एक आज़ाद देश है, हालांकि फ़्रांस, जापान और दक्षिण कोरिया, नार्थ कोरिया को राज्य का दर्जा नहीं देते हैं।


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.