पूर्व DM की पोती ने की मुस्लिम युवक से शादी, उत्पात मचा रहे भाजपाई और हिंदू संगठनों को पुलिस ने दौड़ा कर पिटा




गाजियाबाद में 1980 में DM रहे राजेंद्र अग्रवाल की पोती नूपुर अग्रवाल का मुस्लिम युवक युसूफ से शादी करना कथित धर्म के ठेकोएदारों को नागवार गुजरा और उन्होंने हंगामा काट दिया हैं। पत्रिका न्यूज़ पोर्टल की खबर के मुताबिक सन् 1980 में गाजियाबाद के DM रहे राजेंद्र अग्रवाल की पौत्री नूपुर अग्रवाल ने न्यूरो सर्जन में डॉक्टरी की पढाई की है। नूपुर के साथ ही यूसुफ नाम का एक युवक भी डॉक्टरी की पढ़ाई करता था। धीरे-धीरे दोनों एक दूसरे के संपर्क में आए और आपसी रजामंदी से दोनों ने अपनी डॉक्टरी की पढ़ाई पूरी करने के बाद आपस में धर्म की परवाह न करते हुए कोर्ट मैरिज कर ली। जिसकी सूचना दोनों ने अपने-अपने परिवार को दे दी थी। शुक्रवार को नूपुर अग्रवाल के मकान पर एक पार्टी का आयोजन किया गया था। इस आयोजन में नूपुर अग्रवाल के अलावा पति युसुफ और उसके रिश्तेदार भी शरीक हुए। जैसे ही इस बात की भनक हिंदू संगठन के लोगों को पता चली तो सभी इकठा होकर नूपुर अग्रवाल के मकान पर जा धमके और इस धर्म के विपरीत हुई शादी का जमकर विरोध करने लगे। जिसकी सूचना पुलिस को दी गई। नूपुर अग्रवाल और उसके पति युसुफ के परिजनों ने सभी लोगों को बताया कि इस शादी से नूपुर अग्रवाल और यूसुफ बेहद खुश हैं। क्योंकि दोनों ही पढ़े-लिखे हैं। एक साथ ही दोनों ने डॉक्टरी की पढ़ाई की है और दोनों ने ही सोच समझकर यह फैसला लिया है। इसलिए दोनों के ही परिजन इनके फैसले का स्वागत करते हैं तो इससे दूसरे लोगों को या समाज के लोगों को क्या लेना देना। DM को दी तहरीर हालांकि इस शादी का विरोध करने वाले लोगों ने गाजियाबाद की जिला अधिकारी रितु माहेश्वरी को भी लिखित में तहरीर दी है। उनका कहना है कि दोनों ने धर्म के विपरीत शादी की है। इससे इलाके का माहौल खराब हो सकता है। लेकिन शुरुआती दौर में आए सभी लोगों को नूपुर और यूसुफ के द्वारा अपना फैसला सुनाने के बाद उल्टे पांव वापस लौटना पड़ा। इस बीच हिंदू रक्षा दल और भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को इस बात का पता चला तो सभी लोग एक मंच पर इकट्ठे होकर एआरटी सेंटर के सामने धरने पर बैठ गए और सड़क को जाम कर दिया। पूरा मामला दो अलग अलग धर्मों से जुड़े लड़का-लड़की के शादी के बाद किए जा रहे रिसेप्शन से संबंधित है। वही हिंदू संगठनों और BJP कार्यकर्ताओं ने दोनों की शादी को लव जिहाद का नाम देकर प्रदर्शन किया। जिसके बाद पुलिस ने हल्के बल का प्रयोग कर प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा। इस बात के विरोध में बीजेपी कार्यकर्ता और हिंदू संगठनों ने सड़क को जाम कर एक बार फिर से प्रदर्शन शुरू किया। जिसके बाद बिगड़ते हालात को देखते हुए गाजियाबाद एसएसपी हरि नारायण सिंह के मौके पर पहुंचे प्रदर्शनकारियों से बात कर उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर प्रदर्शन को समाप्त कराया। फिलहाल माहौल शांतिपूर्ण लेकिन अभी भी भारी संख्या में पुलिस फोर्स मौके पर मौजूद है।


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.