गाला काट कर वीडियो ISIS के आतंकी बनाते थे, अब यही काम देश में भगवा आतंकी कर रहे हैं




ऐसा पहली बार हो रहा है जब देश में सोशल मीडिया/मीडिया/राजनैतिक दलों की बयानबाज़ी में आम जनता को शामिल करके एक दूसरे के खिलाफ नफरत पैदा की जा रही है और हिंसा को हवा देने की खुली छूट दी जा रही है। राजसमंद में ऐसे ही एक केस में एक मुसलमान की हत्या का वीडियो बनाया गया।

हत्यारोपी ने पहले उसे काटा और फिर पेट्रोल छिड़कर कर आग के हवाले कर दिया। वह अपने साथी के साथ इस पूरी घटना का वीडियो बनाता है तथा हत्या के बाद वीडियो बना कर इसकी ज़िम्मेदारी भी लेता है। Network-18 (IBN-7) की अंग्रेजी वेबसाइट के मुताबिक मालदा , पश्चिम बंगाल का मजदूर राजसमंद, राजस्थान में अपने परिवार के साथ मजदूरी करता था। हत्या करने वाले ने उसे काम देने के बहाने लेकर आया और फिर घटना को अंजाम दिया। एक मजदूर जो बेचारा मजदूरी करके पेट पालता रहा हो उसकी हत्या करना सिर्फ इसलिए कि वह मुसलमान है, यह निश्चित रूप से सामाजिक शर्म की बात है। हिंदू-मुसलमान से ऊपर उठ कर हम सबको ऐसी घटनाओं, या इस तरह के विभत्स कार्य करने की सोच रखने वाले लोगों का पूरी तरह से बहिष्कार करना ही होगा।

यह कानून के खत्म हो जाने का ऐलान है। इस मुल्क में हिंसा की ऐसी वारदातें आईएसआईएस जैसे आतंकी संगठन से भी विभत्स रूप धारण कर चुकी हैं। पत्रकारिता का एथिक्स मुझे इस प्रकार के वीडियो अथवा तस्वीर साझा करने की इजाज़त तो नहीं देता लेकिन यह नहीं दिखाया गया तो इस मुल्क को आग के हवाले करने वालों पहचान नहीं हो सकेगी। संविधान को ताक पर रखने वालों को बचाने का प्रयास, धर्म आधारित राजनीति करने वाले नेताओं से सवाल कीजिए कि यदि यह सब ऐसे ही चलता रहा है तो इस देश में कौन सुरक्षित रहेगा।

साभार-- Mohammad Anas


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.