फ़िलिस्तीनियों के क़तल ए आम के लिए इस्राईल ने रचा नया षडयंत्र




जायोनी शासन अमेरिका की हरी झंडी पर अधिक से अधिक फ़िलिस्तीनियों की हत्या व दमन की चेष्टा में है।
इस्राईल के युद्धमंत्री ने आपत्ति जताने वाले फ़िलिस्तीनियों की हत्या का आह्वान किया है। एविग्डोर लेबरमैन ने एसा कानून बनाये जाने की मांग की है जिससे आपत्ति जताने वाले फिलिस्तीनियों की हत्या की जा सके।
इसी प्रकार इस्राईल में 6 गठबंधन पार्टियों के नेताओं ने अभी कुछ दिन पहले एक योजना पर सहमति जताई थी जिसके पारित हो जाने की स्थिति में आपत्ति जताने वाले फिलिस्तीनियों को मृत्यु दंड दिया जा सकेगा। जायोनी शासन के इस फैसले का लक्ष्य इस्राईल के खिलाफ बढ़ते विरोध को रोकना है।
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 6 दिसंबर को बैतुल मुकद्दस को इस्राईल की राजधानी के रूप में मान्यता दी थी जिसके बाद से पूरी दुनिया में अमेरिका और जायोनी शासन के खिलाफ प्रदर्शन और विरोध रहे हैं।
इस प्रकार की परिस्थिति में जायोनी शासन अमेरिका की हरी झंडी पर अधिक से अधिक फ़िलिस्तीनियों की हत्या व दमन की चेष्टा में है।
फिलिस्तीनियों की अधिक हत्या के लिए जायोनी शासन जो कानून बनाना चाहता है वह अमेरिका और इस्राईल का फिलिस्तीनी जनता के विरुद्ध संयुक्त षडयंत्र है। इस संबंध में अमेरिका के युद्ध विरोधी एक कार्यकर्ता ने बल देकर कहा है कि फिलिस्तीनियों के खिलाफ इस्राईल के अपराध जायोनी शासन की नस्लभेदी सोच के परिणाम हैं और फिलिस्तीन समस्त अन्याय व अत्याचार का केन्द्र बना हुआ है।
इसी प्रकार युद्ध विरोधी इस अमेरिकी कार्यकर्ता ने कहा कि फिलिस्तीनियों को यथावत जायोनी शासन और उसके पश्चिमी समर्थकों के अत्याचारों का सामना है।
बहरहाल फिलिस्तीनियों के खिलाफ जायोनी शासन के अपराधों में वृद्धि एक प्रकार का युद्धापराध और मानवाधिकार घोषणा पत्र का खुला उल्लंघन है।
उल्लेखनीय है कि मानवाधिकार घोषणा पत्र में इस बात का उल्लेख किया गया है कि अतिग्रहित क्षेत्रों के लोगों की जान- माल की सुरक्षा अतिग्रहणकारी की है। बहरहाल जायोनी शासन की दमनकारी कार्यवाहियों में वृद्धि के दृष्टिगत विश्व समुदाय के लिए आवश्यक हो गया है कि वह फिलिस्तीनियों की हत्या से इस्राईल को रोकने की दिशा में ठोस कदम उठाये।

No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.