ईद मिलादुन्नबी के पोस्टर पर विवाद क्युं.? पोस्टर में ऐसा क्या है.?




नई दिल्ली-मध्य प्रदेश के खंडवा में ईद मिलादुन्नबी के जुलूस के दौरान लगने वाले पोस्टर के आधार पर पुलिस ने कार्यवाई करते हुए 6 लोगो को गिरफ्तार कर लिया.हलाकि पोस्टर में ऐसा कुछ नही है.सभी धार्मिक उत्सवों में दक्षिणपंथी संघठनो ऐसे पोस्टर लगाते रहे है,पिछले दिनों करणी सेना ने लगभग इसी तरह की बयानबाज़ी की और मीडिया ने भी शौर्य गाथा में सुर में सुर मिलाया लेकिन जब वैसे ही अल्फाज़ यहाँ इस्तेमाल हुए तब जनसत्ता जैसे मीडिया समूह इसे आपत्तिजनक शब्द बता रहे है.
एमपी पुलिस के अनुसार,सोशल मीडिया पर भी ये वायरल हो रहा है.इसके बाद पुलिस ने सतर्कता के लिहाज़ से देखते हुए कार्यवाई की.दैनिक जागरण समूह के नई दुनिया के अनुसार,एसएसपी नवनीत भसीन ने इस मामले पर कहा कि जुलूस के दौरान एक पोस्टर देखा गया जिसमे लिखा था-‘ चीर के बहा दो लहू दुश्मन के सिने का,यही मजा है मुसलमान होने का.’
आगे पोस्टर में लिखा है,‘बुजदिल हम नहीं जो पीछे से वार करते हैं,हम तो वो मुसलमान हैं जो शेर का भी जगाकर शिकार करते हैं.हमारे अज्म को हमारे गद्दार जान जाएंगे,अगर इतिहास पढ़ लेंगे तो पहचान जाएंगे,ये हिन्दुस्तान मेरे ख्वाजा का था और रहेगा गलतफहमी में मत रहना की राम राज्य लाएंगे.’
इस पोस्टर के खिलाफ कुछ लोगो ने पुलिस को इसे आपत्तिजनक बताकर कार्यवाई की बात कही.इसके बाद पुलिस ने इस पोस्टर को उतरवा दिया.पुलिस ने मोघट थाना में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया,इसके बाद 6 लोगो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया,गिरफ्तार लोगो में तीन नाबालिक है.पुलिस ने इस पोस्टर को छापने वाले पंकज सोनी नाम के शख्स को भी गिरफ्तार किया है.


No comments

Need a News Portal, with all feature... Whatsapp me @ +91-9990089080
Powered by Blogger.